जेटली का बजाज को जवाब, नोटबंदी का मजाक उड़ाना आसान

जेटली ने राजीव बजाज को जवाब देते हुए कहा कि नोटबंदी का मजाक उड़ाना आसान लेकिन लागू करना वाकई में मुश्किल कदम...

जेटली का बजाज को जवाब, नोटबंदी का मजाक उड़ाना आसान

वित्त मंत्री अरूण जेटली ने नोटबंदी के फैसले पर कॉरपोरेट जगत द्वारा उठाए जा रहे सवालों को खारिज करते हुए कहा कि यह दुनिया का सबसे बड़ा नोटबंदी अभियान है जिसका लक्ष्य भ्रष्टाचार, काला धन और जाली मुद्रा की जड़ों पर प्रहार करना था.

दरअसल इससे पहले गुरुवार को द नेशनल एसोसिएशन ऑफ सॉफ्टवेयर एंड सर्विसेज कंपनीज (NASSCOM) के सालाना लीडरशिप फोरम में बजाज ऑटो के प्रबंध निदेशक राजीव बजाज ने कहा कि 'अगर ख्याल या समाधान सही है तो वो जरूर काम करता है. अगर ऐसा नहीं हो रहा है, मसलन नोटबंदी, तो उसके अमल को दोष मत दीजिए.'

जेटली ने बताया कि भारतीय रिजर्व बैंक के नोट छपाई कारखाने और भारतीय प्रतिभूति मुद्रण एवं मुद्रा निर्माण निगम लिमिटेड एसपीएमसीआईएल ने नए बैंक नोट जारी करने के लिए लगातार बिना विराम के काम किया है. जेटली ने कहा कि नोटबंदी को लेकर आरोप लगाना या व्यंग्यात्मक टिप्पणियां करना आसान काम है.

वित्त मंत्री ने कहा कि नोटबंदी जैसी जटिल प्रक्रिया को लागू करना सबसे मुश्किल काम है जिसे मौजूदा सरकार ने बखूबी कर दिखाया है. जेटली ने कहा कि अक्सर लोग यह कहते रहे हैं कि मुद्रा की स्थिति को सामान्य बनाने में कम से कम सात महीने या एक वर्ष तक लग सकता है लेकिन हकीकत में इसे कुछ हफ्तों में ही पूरा कर लिया गया था. वित्त मंत्री ने बताया कि सामान्य स्थिति को कुछ ही हफ्तों में बहाल कर लिया गया था और बाजार में बैंक नोटों की एक दिन के लिए भी कोई कमी नहीं रही.