कंसास हमला: आरोपी ने अरब नागरिक समझकर श्रीनिवास पर फायरिंग की

श्रीनिवास पर हमला करने के बाद हमलावर ने कहा कि उसने दो मिडिल इस्ट के नागरिकों को मार डाला है। यानी हमलावर ने इन भारतीयों को अरब का नागरिक समझकर फायरिंग की।

कंसास हमला: आरोपी ने अरब नागरिक समझकर श्रीनिवास पर फायरिंग की

अमेरिका के कंसास प्रांत में एक शख्स ने दो भारतीयों समेत 3 लोगों को गोली मार दी। जिसमें एक भारतीय की मौत हो गई। गोली लगने के बाद 32 साल के श्रीनिवास कुचीवोतला को अस्पताल ले जाया गया जहां उसने दम तोड़ दिया जबकि दूसरे घायल भारतीय को इलाज के बाद जाने दिया गया।

घटना में 32 साल के आलोक मदासानी और 24 साल के इएन ग्रिलॉट घायल हो गए। बुधवार शाम ओलेथ शहर के ऑस्टिन बार एंड ग्रिल रेस्तरां में हुआ। मामले में अमेरिकी अखबार 'द हफिंगटन पोस्ट' ने बताया कि हमलावर ने समझा कि इनका संबंध मिडिल इस्ट से है। वेब साइट ने छापा है कि हमला करने के बाद हमलावर ने रेस्तरां में कार्यरत एक कर्मचारी से कहा कि उसने दो मिडिल इस्ट के नागरिकों को मार डाला है। यानी हमलावर ने इन भारतीयों को अरब का नागरिक समझकर फायरिंग की।

गोलीबारी के समय रेस्तरां के संरक्षक उस समय बॉस्केटबॉल मैच देख रहे थे। आरोपी एडम पुरिनतोन (51) को घटना के बाद गुरुवार सुबह गिरफ्तार कर लिया गया। उस पर हत्या और हत्या की कोशिश का मामला दर्ज किया गया है।

प्राधिकारियों ने घटना के घृणा अपराध होने या न होने के सवाल पर कुछ भी कहने से इंकार कर दिया। हालांकि, स्थनीय पुलिस एफबीआई के साथ मिलकर मामले की जांच कर रही है। ऑलेथ के पुलिस प्रमुख स्टीवन मेन्के ने पत्रकारों से कहा कि यह हिंसा का एक दुखद कृत्य है।

एफबीआई के कंसास सिटी कार्यालय के विशेष प्रभारी एजेंट एरिक जैकसन ने पत्रकारों से कहा, 'एफबीआई इस बात की जांच कर रही है कि कुचीभोटला की हत्या पूर्वग्रह से प्रेरित घृणित अपराध है या नहीं। आरोपी पर सोची समझी साजिश के तहत हत्या का प्रथम श्रेणी का मामला दर्ज किया गया है और उसकी जमानत राशि 20 लाख अमेरिकी डॉलर तय की गयी है।'