कर्नाटक: कांग्रेसी नेता की डायरी में 600 करोड़ रुपये का जिक्र

कांग्रेस नेता की डायरी में 600 करोड़ रुपए नेताओं को देने का जिक्र है...

कर्नाटक: कांग्रेसी नेता की डायरी में 600 करोड़ रुपये का जिक्र

कर्नाटक में एक बार फिर कांग्रेस की मुसीबत कम होते नजर नहीं आ रही है। मालूम हो, करीब एक साल पहले आयकर विभाग ने प्रदेश के कई राजनेताओं के यहां इनकम टैक्स रिटर्न न भरने की वजह से छापेमारी की थी। आयकर विभाग के अधिकारियों ने इन नेताओं के यहां कालेधन होने के शक के आधार पर छापेमारी की। छापेमारी के दौरान आयकर विभाग के अधिकारियों को कांग्रेस के एमएलसी गोविंद राज के यहां से एक डायरी मिली, डायरी में कुछ ऐसे डाटा थे, जिसे देख अधिकारी दंग रह गए।

गोविंद राज के संपर्क सिर्फ कर्नाटक तक ही सीमित नहीं हैं। वह दिल्ली के राजनीतिक गलियारों में भी कई नेताओं से रिश्तों को लेकर भी जाने जाते हैं। वह कर्नाटक ओलिंपिक असोसिएशन के प्रेजिडेंट भी हैं। इनकम टैक्स विभाग के सूत्रों ने टाइम्स नाउ को बताया कि डायरी गोविंद राज के बेडरूम में छिपाकर रखी गई थी। टाइम्स नाऊ को इनकम टैक्स विभाग की वे फाइलें मिली हैं, जिनमें डायरी भी है। फाइल में दो गवाहों के हस्ताक्षर भी हैं, जिन्होंने माना है कि डायरी कांग्रेस नेता के बेडरूम से बरामद की गई है।

सहारा और बिरला ग्रुप के अधिकारियों के पास से मिली डायरियों की तरह ही इस डायरी में भी लोगों के नाम, उनके दफ्तर और कंपनियों का जिक्र है। संदेह है कि विभिन्न सेवाओं के लिए इन लोगों को पैसे दिए गए। इसमें एक कॉलम में उन लोगों के नाम दर्ज हैं, जिन्होंने उन्हें पैसा दिया। दूसरे कॉलम में उन लोगों के नाम हैं, जिनको कांग्रेस नेता ने पैसे दिए।

11 फरवरी को आयकर विभाग के अधिकारियों ने गोविंद राज को पूछताछ के लिए बुलाया था। उस दौरान उन्होंने दावा किया था कि यह हैंड राइटिंग उऩकी नहीं है। इसके अलावा उनके हस्ताक्षर भी जाली हैं। कांग्रेस ने मोदी सरकार पर बदनाम करने का आरोप मढ़ते हुए डायरी को फर्जी बताया।