लखनऊ: कमीश्नर की पत्नी की 14वीं मंजिल से गिर कर मौत, सास और पति फरार

लखनऊ के डालीबाग स्थित धेनुमती अपार्टमेंट में वाणिज्यकर विभाग के डिप्टी कमिश्नर दीप रतन चौधरी की पत्नी नमिता चौधरी (28) की 14वें माले से संदिग्ध हालात में नीचे गिरने से मौत हो गई...

लखनऊ: कमीश्नर की पत्नी की 14वीं मंजिल से गिर कर मौत, सास और पति फरार

लखनऊ के डालीबाग स्थित धेनुमती अपार्टमेंट में वाणिज्यकर विभाग के डिप्टी कमिश्नर दीप रतन चौधरी की पत्नी नमिता चौधरी (28) की 14वें माले से संदिग्ध हालात में नीचे गिरने से मौत हो गई। घटना के तुरन्त बाद ही पति और सास अनुराधा कार से वहां से भाग निकली। मायके वालों ने पति दीप रतन, सास और उनकी बहन पर दहेज के लिए नमिता को छत से फेंक कर मार डालने का आरोप लगाया है। उधर अपार्टमेंट में लगे सीसी कैमरे की फुटेज में नमिता गिरते हुए दिखाई पड़ी है।

बता दें कि आजमगढ़ में रिटायर कर्मचारी राम निवास ने अपनी बेटी नमिता की शादी 10 जून, 2015 को गोरखपुर निवासी बैजनाथ चौधरी के बेटे दीप रतन से की थी। लखनऊ में तैनात दीप रतन धेनुमती अपार्टमेंट के फ्लैट नम्बर 104 में नमिता व अपनी मां अनुराधा के साथ रहता था। नमिता एलडीए कालोनी में दो दिन पहले एलडीए कालोनी में अपने भाई के यहां एक समारोह में गई थी।

साथ ही गार्ड कृष्णा यादव ने बताया कि उसे किसी के गिरने की आवाज सुनाई पड़ी। वह गार्ड रूम से बाहर आया तो नमिता लहूलुहान मृत हालत में मिली। उनके सिर से काफी खून बहा हुआ था और वह करवट के बल पड़ी थी। दीप रतन के फ्लैट में ताला लगा मिला। पुलिस 14 वें माले पर बनी छत पर पहुंची तो वहां नींद की गोलियां, पानी की बोतल, पर्स और उसके अंदर एक मोबाइल मिला। सीढ़ी भी गिरी हुई थी। लगा कि नमिता के साथ संघर्ष हुआ है। पुलिस ने मायके वालों को सूचना दी। कुछ देर में ही नमिता की मां किरन और भाई वहां पहुंच गए।

गौरतलब है कि मायके वालों ने बताया कि शादी के बाद से ही ये लोग नमिता को पीटते थे। उसे दहेज के लिए प्रताड़ित करते थे। इस अपार्टमेंट को खरीदने के लिए मायके वालों ने काफी रकम भी दी थी। एएसपी का कहना है कि अभी साफ नहीं है कि नमिता की हत्या की गई है। पर, यह सही है कि पति-पत्नी का विवाद हुआ है। यह भी हो सकता है कि इस विवाद के बाद ही वह छत से कूद गई हो। नमिता की मां किरन की तहरीर पर मुकदमा दर्ज कर लिया गया है। पोस्टमार्टम रिपोर्ट मिलने के बाद आगे की कार्रवाई की जाएगी।

वहीं गार्ड ने बताया कि भीड़ जुटने लगी, तभी दीप रतन मां के साथ कार से भाग निकले। वह समझ ही नहीं सका कि ये सब क्या हुआ। सीओ हजरतगंज और एएसपी शिवराम वहां पहुंचे। सीओ ने बताया कि नमिता के घर में कैमरा लगा हुआ है। इससे और अन्य कैमरों की फुटेज से साफ होगा कि वह कब ऊपर गई और उसके साथ कोई था यह वह अकेले ही गई थी।