गुजरात में धमाका करेंगे केजरीवाल, बीजेपी के कई विधायक AAP के संपर्क में !

पीएम मोदी के गढ़ में सेंध लगा रहे है केजरीवाल । गुजरात में इस साल के अंत में चुनाव होने है उससे पहले बीजेपी के कई विधायक आम आदमी पार्टी का दामन थाम सकते हैं।

गुजरात में धमाका करेंगे केजरीवाल, बीजेपी के कई विधायक AAP के संपर्क में !

दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल पीएम नरेंद्र मोदी को उनके गढ़ में चुनौती देने की प्लानिंग कर रहे है। और इस काम में पीएम मोदी के कई सिपहसलार पाला बदल कर अरविंद केजरीवाल के साथ आ सकते है। सूत्रों से मिल रही जानकारी के मुताबिक "मिशन गुजरात" के तहत कुमार विश्वास को गुजरात की कमान सौंपे जाने के बाद बीजेपी की गुजरात युनिट में खलबली मच गई है. कई मौजूदा विधायक आम आदमी पार्टी के संपर्क में है। और वो इस साल के अंत में होने वाले गुजरात चुनाव के पहले आम आदमी के साथ आ सकते है। आपको बता दे कि पिछले हफ्ते अरविंद केजरीवाल के घर हुई आम आदमी पार्टी की राजनीतिक मामलों की कमिटी (PAC) ने फैसला किया है कि इसी साल दिसंबर में होने वाले गुजरात विधानसभा चुनाव की तैयारियों पर अब ज्यादा जोर दिया जाए। जिससे प्रधानमंत्री मोदी को उनके गढ़ में घुसकर चुनौती दी जा सके. PAC ने तय किया है कि जल्द से जल्द गुजरात की सभी 182 सीटों पर बूथ लेवल तक कार्यकर्ता और संगठन का काम पूरा किया जाए।

गुजरात में आप के इंचार्ज और दिल्ली के मटियाला से विधायक गुलाबी सिंह पिछले एक साल से गुजरात में डेरा डाले हुए हैं. गुलाबी सिंह फिलहाल वहां संगठन का काम देख रहे हैं. 30 जनवरी से ही आम आदमी पार्टी ने गुजरात में घर घर जाकर संगठन और समर्थन जुटाने की मुहिम शुरू कर दी है ।

आपको बता दें कि पिछले साल के अंत में खबर आई थी गुजरात से बीजेपी विधायक नलिन कोटाडिया और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल की मुलाकात राजकोट सर्किट हाऊस में हुई थी। उस समय ये बात जोरशोर से उठी थी कि बीजेपी विधायक आम आदमी पार्टी ज्वाइन कर सकते है।

केजरीवाल की गुजरात तैयारी का पता एक ट्वीट से भी चलता है। कुछ दिनों पहले आम आदमी पार्टी के किसी कार्यकर्ता ने ट्वीट किया जिसमें उन्होंने लिखा था कि ‘अरविंद केजरीवाल अब नरेंद्र मोदी को उनके गढ़ में देंगे चुनौती, गुजरात के कई मौजूदा विधायक और नेता आम आदमी पार्टी के संपर्क में हैं- सूत्र।‘ इस ट्विट में जो बात कही गई है उसमें सूत्रों का हवाला दिया गया  था। लेकिन इस ट्वीट को आम आदमी पार्टी के संयोजक और दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने रीट्वीट किया था।