मुलायम सिंह ने सिखाई थी पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम को हिंदी!

र्व राष्ट्रपति और मिसाइल मैन के नाम से मशहूर एपीजे अब्दुल कलाम मुलायम सिंह ने सिखाई थी पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम को हिंदी।

मुलायम सिंह ने सिखाई थी पूर्व राष्ट्रपति अब्दुल कलाम को हिंदी!

पूर्व राष्ट्रपति और मिसाइल मैन के नाम से मशहूर एपीजे अब्दुल कलाम देश के सभी लोगों के लिए प्रेरणा का एक बेहतरीन स्त्रोत हैं। देश की मिसाइल तकनीक के क्षेत्र के विकास में उनका योगदान तो अमूल्य है ही। वहीं देश के मिसाइल मैन के जीवन के विषय पर एक और दिलचस्प बात सामने आई है। अब्दुल कलाम को हिंदी सिखाने वाले गुरु के नाम का खुलासा हो गया है। कलाम हिंदी सीखने के लिए यूपी के पूर्व सीएम मुलायम सिंह यादव को अपना गुरु माना था। यह जानकारी कलाम के प्रेस सचिव एस एम खान ने बीते रविवार 26 फरवरी को दी।

मीडिया रिपाेर्टस के मुताबिक खान ने इस बात का खुलासा अपनी किताब ‘द पीपल्स प्रेजिडेंट: एपीजे अब्दुल कलाम’ के रीडिंग सेशन के दौरान किया। इस किताब में पूर्व राष्ट्रपति से जुड़े कई किस्सों का जिक्र किया गया है। किताब का एक हिस्सा पढ़ते हुए उन्होंने बताया कि कलाम ने हिंदी सीखने के लिए मुलायम को गुरु बनाया था। खान ने किताब पढ़ते हुए बताया कि “कलाम,16 फरवरी 2004 को मुलायम सिंह यादव के गांव सैफई आए हुए थे। इस दौरान उन्होंने 40 हजार लोगों को संबोधित किया। इस दौरान कलाम ने संबोधन से पहले बताया कि उन्हें जितनी भी हिंदी आती है वो मुलायम की वजह से ही आती है।”

उल्लेखनीय है कि मुलायम के रक्षा मंत्री होने के दौरान कलाम उनके वैज्ञानिक सलाहकार थे। उसी समय उन्होंने मुलायम से हिंदी सीखी थी। खान की बुक का रीडिंग सेशन लखनऊ में एसिड अटैक सर्वाइवर्स द्वारा चलाए जाने वाले कैफे शीरोज़ में आयोजित कराया गया था। सेशन के दौरान खान ने पूर्व राष्ट्रपति से जुड़े कई किस्सों का जिक्र किया। खान ने आगे बताया कि कलाम की हिंदी और उर्दू अच्छी नहीं थी और मैं उनके भाषणों का हिंदी में अनुवाद करता था। वहीं  खान ने यह भी बताया कि 2002 में कलाम के राष्ट्रपति बनने के बाद से उन्होंने कई परंपराओं को तोड़ा था। इनमें राष्ट्रपति के लिए लंबी कुर्सी, महामहिम के संबोधन की मनाही भी शामिल था। इसके अलावा कलाम ने ही राष्ट्रपति भवन के दरवाजों को आम लोगों के लिए खोला था।