मोदी सरकार की तीसरी सालगिरह पर प्रचार की कवायद शुरू

मोदी सरकार अपना तीसरा साल मई में पूरा करने वाली है। इसके लिए केन्द्र ने व्यापक पब्लिसिटी की योजना बनाई है। मोदी सरकार के तीन साल की उपलब्धियों और कामयाबियों का ब्यौरा देने वाला ये जश्न कार्यक्रम लगभग 15 मार्च से शुरू हो जाएगा।

मोदी सरकार की तीसरी सालगिरह पर प्रचार की कवायद शुरू

वर्ष 2014 में बंपर जीत के बाद सत्ता में आई केन्द्र की नरेन्द्र मोदी सरकार अपना तीसरा साल मई में पूरा करने वाली है। इसके लिए केन्द्र ने व्यापक पब्लिसिटी की योजना बनाई है। मोदी सरकार के तीन साल की उपलब्धियों और कामयाबियों का ब्यौरा देने वाला ये जश्न कार्यक्रम लगभग 15 मार्च से शुरू हो जाएगा। इसके लिए केन्द्र सरकार ने अपने सभी मंत्रियों से 15 मार्च से पहले तक अपनी सक्सेस लिस्ट मांगी है।

लिस्ट में केन्द्र के मंत्री अपने तीन साल के कामकाज का ब्योरा देंगे। लिस्ट में मंत्रियों ने क्या काम किया, इस काम की वजह से आम लोगों की ज़िंदगी पर क्या असर पड़ा? इस काम के बारे में लोगों ने क्या प्रतिक्रियाएं दी, इसकी जानकारी दी जाएगी।

ज्ञात हो कि नरेन्द्र मोदी ने 26 मई 2014 को प्रधानमंत्री पद की शपथ ली थी। बीजेपी ने साल 2014 के लोकसभा चुनाव में एतिहासिक सफलता प्राप्त करते हुए अपने दम पर ही बहुमत हासिल किया था। और इसका श्रेय प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी को मिला था। केन्द्र सरकार ने अपनी दूसरी वर्षगांठ पर दिल्ली के इंडिया गेट पर ‘एक नई सुबह’ नाम से एक भव्य कार्यक्रम का आयोजन किया था।

मोदी सरकार की तीसरी वर्षगांठ पर जश्न का आलम कैसा होगा ये काफी कुछ अभी चल रहे विधान सभा चुनावों के नतीजों पर निर्भर करता है। महाराष्ट्र नगरपालिका चुनाव में दमदार प्रदर्शन करने के बाद अगर पार्टी उत्तर प्रदेश पर भी फतह हासिल कर लेती है तो बीजेपी इसे देश भर में अपनी बढ़ती स्वीकार्यता के तौर पर भुनाएगी। हालांकि, विधानसभा चुनाव के नतीजे मनमाफिक ना होने से तीन साल के सेलिब्रेशन की चमक थोड़ी फीकी पड़ सकती है।