हिंद महासागर में भारतीय नौसेना की बढ़ती ताकत से PAK परेशान

हिंद महासागर में भारतीय नेवी की बढ़ती ताकत से पाकिस्तान परेशान है। विदेशी मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने हिंद महासागर में भारतीय नौसेना के विस्तार पर चिंता जताई है।

हिंद महासागर में भारतीय नौसेना की बढ़ती ताकत से PAK परेशान

भारतीय नेवी की हिंद महासागर में बढ़ती ताकत से पाकिस्तान परेशान है। अंतरराष्ट्रीय माडिया में आ रही खबरों के मुताबिक विदेशी मामलों के सलाहकार सरताज अजीज ने हिंद महासागर में भारतीय नौसेना के विस्तार पर चिंता जताई है। अजीज ने आरोप लगाया है कि भारत विस्तारवादी समुद्री सुरक्षा रणनीति अपना रहा है। सर क्रीक का सीमांकन नहीं होने से हिंद महासागर की सुरक्षा को लेकर खतरा पैदा हुआ है।

पाकिस्तानी नौसेना की तरफ से "हिंद महासागर क्षेत्र में रणनीतिक संभावना 2030 और उससे आगे-बढ़ती चुनौतियां और रणनीति" पर आयोजित सम्मेलन को संबोधित करते अजीज ने कहा कि भारतीय नौसेना का हिंद महासागर में विस्तार पाकिस्तान के लिए चिंता का विषय है।

अजीज ने कहा कि हिंद महासागर की सुरक्षा पाकिस्तान के लिए सामरिक महत्व रखती है। उन्होंने कहा कि हमें हिंद महासागर की आर्थिक क्षमताओं का अंदाजा हुआ। यह दुनिया के 30 से ज्यादा देशों को समुद्र तट मुहैया कराता है। ना केवल यह एशिया के अहम इलाकों से संपर्क स्थापित करता है, बल्कि दक्षिणी एशिया, मध्य-पूर्व और अफ्रीका के लिए भी एक मुख्य संपर्क सूत्र है। यह ऑस्ट्रेलिया को यूरोप से जोड़ता है।

उन्होंने कहा कि समुद्र के रास्ते ही पाकिस्तान का 95 फीसद कारोबार होता है। पाकिस्तान को अपने राष्ट्रीय हितों का अंदाजा है और हम हिंद महासागर में अपनी क्षमताओं को और मजबूत करने पर ध्यान देंगे।पाकिस्तान ने जनवरी में परमाणु शक्ति संपन्न पनडुब्बी से लॉन्च किए जाने वाले क्रूज मिसाइल 'बाबर-III' का सफलतापूर्वक परीक्षण किया था।