ये हैं सेकेंड फेज के पॉलिटिकल सेलिब्रिटीज

यूपी में बुधवार सेकेंड फेज का मतदान होगा। 11 जिलों की 67 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। 720 कैंडिडेट्स की किस्मत का फैसला वोटर्स करेंगे। इस फेज में आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम और पीएम मोदी को धमकी देने वाले इमरान मसूद चुनाव मैदान में हैं।

ये हैं सेकेंड फेज के पॉलिटिकल सेलिब्रिटीज

यूपी में बुधवार सेकेंड फेज का मतदान होगा। 11  जिलों की 67 सीटों पर वोट डाले जाएंगे। 720 कैंडिडेट्स की किस्मत का फैसला वोटर्स करेंगे। इस फेज में आजम खान के बेटे अब्दुल्ला आजम और पीएम मोदी को धमकी देने वाले इमरान मसूद चुनाव मैदान में हैं।आपको उन 10 चेहरों के बारे में बता रहे हैं, जो इस फेज में चुनाव लड़ने से चर्चा में हैं। ये हैं सेकेंड फेज के पॉलिटिकल सेलिब्रिटीज...

1.आजम खान (सपा, रामपुर)
- आजम सपा का बड़ा मुस्लिम चेहरा हैं। वे अपने विवादित बयानों के चलते चर्चा में रहते हैं।
- रामपुर में नवाबों का राजनीति का वर्चस्व उन्होंने ही खत्म किया है।

2. अब्दुल्ला आजम खान (सपा, रामपुर की स्वार सीट)

- अब्दुल्ला कई दिनों से अपने पिता के लिए राजनीति में प्रचार का काम संभाल रहे हैं।
- उन्‍होंने एमटेक तक की पढ़ाई की है। अब्‍दुल्‍ला रामपुर में स्थ‍ित जौहर यूनिवर्सिटी के सीईओ हैं।
- वे सिर्फ 24 साल की उम्र में यूनिवर्सिटी के सीईओ बन गए थे।
3. जितिन प्रसाद (कांग्रेस, शाहजहांपुर की तिलहर सीट)

- कांग्रेस के पूर्व सांसद जितिन प्रसाद 2014 में शाहजहांपुर से चुनाव हार गए थे।
- जितिन राहुल गांधी के करीबियों में गिने जाते हैं।
4. इमरान मसूद (सहारनपुर सदर सीट)

- इमरान मसूद ने 2014 लोकसभा चुनाव के दौरान मोदी की बोटी-बोटी करने की बात कही थी। उनके इस बयान का वीडियो वायरल होने के बाद वह चर्चा में आए थे।
- इमरान मसूद को राहुल ने कोर टीम में भी जगह दी है।
5. कमाल अख्तर (सपा, अमरोहा की हसनपुर सीट)
- कैबिनेट मंत्री कमाल अख्तर सीएम अखिलेश यादव के करीबी हैं। वह अपने क्षेत्र में साफ सुथरी छवि के नेता माने जाते हैं।
- वे अमरोहा से ही सपा सरकार में मंत्री महबूब अली के विरोधी भी कहे जाते हैं। आखिरी बार वे तब चर्चा में आए थे, जब सीएम ने 24 अक्टूबर को कहा था कि नेता जी ने कमाल अख्तर को भी हटाने को कहा था, लेकिन मैंने नहीं हटाया।
6. महबूब अली (सपा, अमरोहा सदर सीट)
- कैबिनेट मंत्री महबूब अली सपा सरकार में ही माध्यमिक शिक्षा मंत्री रह चुके हैं।
- वह मुलायम के करीबी और दबंग छवि के नेता माने जाते हैं। अब उनका बेटा भी एमएलसी बन गया है।
7. विजय यादव (बसपा, मुरादाबाद की ठाकुरद्वारा सीट)
- विजय यादव अपने कारनामों के चलते चर्चा में रहते हैं। पीड़ित व्यक्ति के साथ थानों तक पहुंच जाते हैं और सुनवाई न होने पर हंगामा करने लगते हैं।
- वह अपने कपड़े तक फाड़ने लगते हैं। मुस्लिम और ठाकुर वोटों पर उनकी पकड़ है।
8. राममूर्ति सिंह वर्मा (सपा, शाहजहांपुर की ददरौल सीट)
- राममूर्ति शाहजहांपुर के दबंग सपा नेता के रूप में जाने जाते हैं।
- जर्नलिस्ट को जिंदा जलाने का आरोप भी राममूर्ति पर लगा था।
- हालांकि, बाद में जर्नलिस्ट के परिवार ने अपना आरोप वापस ले लिया था।
9. सुरेश खन्ना (बीजेपी, शाहजहांपुर)
- सुरेश खन्ना सदन में बीजेपी के नेता विधानमंडल दल हैं।
- वे मुस्लिमों का काफी ख्याल रखते हैं। वे 7वीं बार लगातार शाहजहांपुर से जीते हैं।
10. भगवतशरण गंगवार (सपा, बरेली की नवाबगंज सीट)
- भगवतशरण अखिलेश सरकार में कैबिनेट मंत्री हैं।
- वह सपा के सीनियर नेताओं में गिने जाते हैं।
सेकेंड फेज में इन जिलों में होनी है वोटिंग
- सहारनपुर, मुरादाबाद, बिजनौर, संभल, रामपुर, बरेली, अमरोहा, पीलीभीत, लखीमपुर खीरी, शाहजहांपुर और बदायूं।
2012 में किसके पास थीं कितनी सीट?
#सपा- 34
#कांग्रेस- 03
#बीजेपी- 10
#बसपा- 18