बिहार: तेजस्वी काे CM बनाने वाले बयान से, राबड़ी देवी काे सफाई देनी पड़ी

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने बीते गुरुवार को अपने विधायकों की इस मांग का समर्थन किया कि उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनना चाहिए, लेकिन थोड़ी ही देर बाद राबड़ी देवी को बयान काे लेकर सफाई देनी पड़ी।

बिहार: तेजस्वी  काे CM बनाने वाले बयान से, राबड़ी देवी काे सफाई देनी पड़ी

बिहार की पूर्व मुख्यमंत्री राबड़ी देवी ने  बीते गुरुवार को अपने विधायकों की इस मांग का समर्थन किया कि उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव को मुख्यमंत्री बनना चाहिए, लेकिन थोड़ी ही देर बाद राबड़ी देवी को बयान काे लेकर सफाई देनी पड़ी। उन्होंने कहा नीतीश ही मुख्यमंत्री हैं और वही रहेंगे। सूत्रों के मुताबिक-बयान पर सफाई देने की सबसे बड़ी वजह यह थी कि राबड़ी को जल्द ही यह अहसास हो गया था कि इससे गठबंधन की किरकिरी होगी। साथ ही जेडीयू और कांग्रेस इस मुद्दे पर काफी आक्रामक हो गए थे। उन्हें लगने लगा कि इस मुद्दे पर वह अलग-थलग पड़ गई हैं।

मीडिया के सूत्राें के अनुसार बिहार विधानसभा के बजट सत्र के एक दिन पहले विधानसभा परिसर में पत्रकारों ने तेजस्वी के मुख्यमंत्री बनाने की आरजेडी विधायकों और कार्यकर्ताओं की मांग पर राजद अध्यक्ष लालू प्रसाद की पत्नी राबड़ी देवी से सवाल पूछा गया, तो उन्होंने कहा, 'अगर जनता चाहेगी, तो तेजस्वी मुख्यमंत्री बनेंगे। लोकतंत्र में जनता ही मालिक है।

गाैरतलब है कि राबड़ी के बयान पर जेडीयू के वरिष्ठ नेता श्याम रजक ने कहा कि बिहार में मुख्यमंत्री पद के लिए कोई 'वैकेंसी' नहीं है। उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में सभी को बोलने का अधिकार है। महागठबंधन के नेता मुख्यमंत्री नीतीश कुमार हैं।

उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों आरजेडी के कई विधायकों ने उत्तर प्रदेश में अखिलेश यादव की तर्ज पर लालू प्रसाद के पुत्र और राज्य के उपमुख्यमंत्री तेजस्वी प्रसाद यादव को मुख्यमंत्री बनाने की मांग की थी। बाद में हालांकि तेजस्वी ने खुद इस बयान से किनारा करते हुए कहा था कि अभी बिहार में महागठबंधन की सरकार ठीक ढंग से चल रही है और मुख्यमंत्री पद के लिए कोई 'वैकेंसी' नहीं है।