बुआ कभी भी BJP से रक्षाबंधन मना सकती है: अखिलेश

यूपी विधानसभा चुनाव में पाचवें चरण के मतदान से एक दिन पहले सीएम अखिलेश ने महराजगंज में चुनावी सभा को संबोधित किया। उन्होंने मायावती पर निशाना साधते हुए कहा कि हमारी बुआ से आप लोग सावधान रहना, वह बीजेपी से कभी भी रक्षाबंधन मना सकती है।

बुआ कभी भी BJP से रक्षाबंधन मना सकती है: अखिलेश

यूपी विधानसभा चुनाव में पाचवें चरण के मतदान से एक दिन पहले सीएम अखिलेश यादव ने महराजगंज में चुनावी सभा को संबोधित किया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक उन्होंने कहा कि साइकिल को हाथ का साथ मिल गया है। इससे साइकिल की रफ्तार बढ़ गई। इस साथ से सभी घबरा गए हैं, लेकिन सबसे अधिक घबराहट में बीएसपी सुप्रीमो मायावती को हैं। उनकी अब तो भाषा ही बदल गई है। मायावती कहती है कि अब स्मारक नहीं बनाएंगे, विकास करेंगे। हमारी बुआ से आप लोग सावधान रहना, वह बीजेपी से कभी भी रक्षाबंधन मना सकती है।

अखिलेश ने कहा कि पढ़ाई का जो इंतजाम होना चाहिये वो नही हो पा रहा है। बेरोजगारों को उतना रोजगार नहीं मिल पा रहा है। इस स्थिति को हम आने वाले समय में और सुधार करने का काम करेंगे। प्रदेश के जो बच्चे 10- 12 से आगे पढऩा चाहते हैं ,उन्हें सरकार स्वरोजगार के लिए प्रशिक्षण देगी।

उन्होंने कहा कि अब तक हम उम्मीदवारो जिताने के लिए वोट मांगते थे अब हम सरकार बनाने के लिए वोट मांग रहे हैं। उन्होंने कहा कि बीजेपी वाले एम्स की बात करते हैं, लेकिन यदि हमारी सरकार ने एम्स के लिए जमीन नहीं दी होती तो गोरखपुर में एम्स का सपना कभी पूरा नहीं होता। केंद्र सरकार अब तक एम्स का निर्माण आरंभ नहीं कर सकी है। हम कब्रिस्तान-श्मशान की बात बात नहीं विकास की बात करते हैं।

सीएम ने कहा कि पिछले 5 सालों के दौरान हमने राजनीति के ऊचं-नीच सभी रास्ते नाप लिए हैं, इस बार साइकिल पर बटन दबा कर सपा की सरकाए बनाएं। उन्होंने अपने कार्यों की उपलब्धियों को गिनाते हुए कहा कि समाजवादी पेंशन योजना, लोहिया आवाास, मुफ्त सिंचाईं, मैट्रो का निर्माण करा कर हमने प्रदेश को विकास के पथ पर पहुंचाया है।