SBI का मुनाफा 71 फीसदी बढ़कर 2,152.2 करोड़ रुपए रहा

देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक का 31 दिसंबर 2016 को समाप्त तीसरी तिमाही के दौरान एकीकृत शुद्ध लाभ 71 प्रतिशत बढ़कर 2,152.2 करोड़ रुपए रहा।

SBI का मुनाफा 71 फीसदी  बढ़कर 2,152.2 करोड़ रुपए रहा

देश के सबसे बड़े बैंक भारतीय स्टेट बैंक का 31 दिसंबर 2016 को समाप्त तीसरी तिमाही के दौरान एकीकृत शुद्ध लाभ 71 प्रतिशत बढ़कर 2,152.2 करोड़ रुपए रहा। बैंक ने इससे पिछले साल की इसी तिमाही में 1,259.4 करोड़ रुपए का शुद्ध लाभ दर्ज किया था।

बैंक के वर्ष 2016-17 की तीसरी तिमाही (अक्तूबर से दिसंबर) के यहां जारी परिणाम के मुताबिक इस दौरान उसकी कुल आय 75,537.2 करोड़ रुपए रही जबकि इससे पिछले साल इसी तिमाही में 67,511.45 करोड़ रुपए की आय हुई थी। दिसंबर 2016 तिमाही में गैर-निष्पादित राशि (एनपीए) के लिए बैंक की प्रावधान राशि 8,942.83 करोड़ रुपए रही जबकि इससे पिछले साल यह राशि 7,949.38 करोड़ रुपए रही। दिसंबर अंत में बैंक की एनपीए राशि बढ़कर 1.08 लाख करोड़ रुपए हो गई जबकि एक साल पहले दिसंबर में यह 72,791.73 करोड़ रुपए रही थी।
आलोच्य अवधि में बैंक का सकल एनपीए पिछले साल के 5.10 से बढ़कर 7.23 प्रतिशत हो गया जबकि शुद्ध एनपीए इस दौरान 2.89 प्रतिशत से बढ़कर 4.24 प्रतिशत  हो गया। एकल आधार पर स्टेट बैंक का शुद्ध लाभ तीसरी तिमाही में 2 गुणा से भी अधिक बढ़कर 2,610 करोड़ रुपए हो गया जबकि एक साल पहले इसी अवधि में यह 1,115.3 करोड़ रुपए रहा था। इस अवधि में बैंक की एकल आधार पर आय 53,587.5 करोड़ रुपए रही जो कि एक साल पहले 46,731 करोड़ रुपए रही थी।

रुपए में एस.बी.आई. के एनपीए पर गौर करें तो तिमाही आधार पर तीसरी तिमाही में बैंक का ग्रॉस एनपीए 1.06 लाख करोड़ रुपए से बढ़कर 1.08 लाख करोड़ रुपए रहा है। तिमाही आधार पर तीसरी तिमाही में एस.बी.आई. का नेट एनपीए 60,013 करोड़ रुपए से बढ़कर 61,430 करोड़ रुपए रहा है।