शहाबुद्दीन के तिहाड़ जाने से सिवान हाेगा शांति बहाल: शहनावाज हुसैन

बिहार के गया जिले में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा मो.शहाबुद्दीन को तिहाड़ जेल भेजने के फैसले पर कहा कि सिवान में अब अमन चैन वापस लौटेगा।

शहाबुद्दीन के तिहाड़ जाने से सिवान हाेगा शांति बहाल: शहनावाज हुसैन

बिहार के गया जिले में भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता शाहनवाज हुसैन ने सुप्रीम कोर्ट द्वारा मो.शहाबुद्दीन को तिहाड़ जेल भेजने के फैसले पर कहा कि सिवान में अब अमन चैन वापस लौटेगा। उन्होंने कहा की भाजपा सुप्रीम कोर्ट के इस फैसले का स्वागत करती है। शाहनवाज बुधवार को गया स्नातक क्षेत्र से प्रत्याशी सभापति अवधेश नारायण सिंह का नामांकन पर्चा भरने के समय गया पहुंचे हुए थे। उन्होंने कहा कि शहाबुद्दीन सिवान जेल से अपना राज चला रहे थे।

वहीं पर दूसरी तरफ आशा रंजन ने कहा कि कोर्ट का फैसला ऐतिहासिक है। इस फैसले से लोगों को राहत मिली है कि वे अब गवाहों और सबूतों को नष्ट नहीं करेंगे। तिहाड़ जाने के निर्देश का उन्हें वकील किसलय पांडेय ने फोन कर जानकारी दी।

मीडिया रिपाेर्टस के मुताबिक इस मामले काे लेकर चंदा बाबू ने कहा कि इस फैसले से उनके अंदर समाया डर ख़त्म हो गया है।सुप्रीम कोर्ट के फैसले से लोगों में खुशी है। प्रसांत भूषण का वे आभारी है जिन्होंने इस फैसले में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। डीएम महेंद्र प्रसाद ने कहा कि फैसले की कॉपी मिलते ही सुप्रीम कोर्ट के आदेश का अनुपालन किया जायेगा।

ज्ञात हाे कि सीवान के तेजाब कांड में शहाबुद्दीन को उम्रकैद की सजा मिली हुई है, यह मामला 2004 का है। शहाबुद्दीन के अड्डे प्रतापपुरा में दो भाइयों गिरीश और सतीश को तेजाब से इस कदर नहलाया गया कि कुछ ही मिनटों में उनका शरीर झुलसने लगा। वे चिल्ला करके रहम की गुहार करते रहे और वहां मौजूद लोग देखते रहे। थोड़ी देर में दोनों भाइयों की मौत हो गई।

हांलाकि तेजाब कांड में पटना हाईकोर्ट से जामनत मिलने के बाद शहाबुद्दीन 10 सितंबर 2016 को 11 साल बाद जेल से बाहर आया। पीडि़त परिवार की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट ने शहाबुद्दीन की जमानत रद्द कर दी। 20 दिन बाद शहाबुद्दीन फिर सलाखों के पीछे चला गया। फिर सुप्रीम कोर्ट ने 15 फरवरी 2017 को शहाबुद्दीन को सीवान जेल से दिल्ली के तिहाड़ जेल में शिफ्ट करने का फैसला सुनाया।