अब व्हॉट्सएेप से होगा डिजिटल पेमेंट !

व्हॉट्सएेप के को-फाउंडर ब्रायन ऐक्टन का कहना है कि उनकी कंपनी अधिक लाभ का कारोबार माने जाने वाले डिजिटल पेमेंट सेगमेंट में एंट्री करने पर विचार कर रही है।

अब व्हॉट्सएेप से होगा डिजिटल पेमेंट !





व्हॉट्सएेप के को-फाउंडर ब्रायन ऐक्टन का कहना है कि उनकी कंपनी अधिक लाभ का कारोबार माने जाने वाले डिजिटल पेमेंट सेगमेंट में एंट्री करने पर विचार कर रही है।

बता दें, व्हॉट्सएेप ने 8 साल पूरे होने के मौके पर स्टेटस फीचर में बड़ा बदलाव किया है। इसके तहत अब यूजर्स व्हॉट्सएेप स्टेटस में फोटो, विडियो और GIF को डाल सकेंगे। यह पूछे जाने पर कि फेसबुक ने फेक न्यूज पर कड़ा कदम उठाया है, इस पर व्हॉट्सएेप का क्या रुख है। ऐक्टन ने कहा, 'फेक न्यूज के चैलेंज को लेकर हम जागरूक हैं। हमने इसके बारे में और लोगों पर इसके असर को समझना शुरू किया है। हमारा मानना यह है कि एक ऐसा टूल बनना चाहिए, जिससे लोग ऐसी फेक खबरों को पहचान सकें और इन पर रोक लगा सकें। फेक न्यूज फैलाने वाले यूजर्स को बैन करने का प्रावधान होना चाहिए।'

8 साल पूरे होने के मौके पर एक अखबार से बातचीत में  ब्रायन ऐक्टन ने कहा कि इस बिजनस के बारे में हम विचार कर रहे हैं। व्हॉट्सएेप ने अब तक \'अनटैप्ड\' कमर्शल मैसेजिंग में एंट्री नहीं की है, हम इस सेक्टर में भी आने पर विचार कर रहे हैं। यूक्रेन के जान कॉम ने ऐक्टन के साथ मिलकर 2009 में व्हॉट्सएेप की स्थापना की थी। फिलहाल पूरी दुनिया में वॉट्सऐप के 1.2 बिलियन मासिक ऐक्टिव यूजर हैं। इनमें से 20 करोड़ लोग अकेले भारत से हैं।