US: ट्रंप के प्रतिबंध अादेश पर राेक बरकरार

यूएस की एक संघीय अपील न्यायालय ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सात मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों पर यात्रा संबंधी प्रतिबंध के आदेश पर रोक लगाने के सिएटल की एक अदालत के फैसले को बरकरार रखा है।

US: ट्रंप के प्रतिबंध अादेश पर राेक बरकरार

यूएस की एक संघीय अपील न्यायालय ने राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के सात मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों पर यात्रा संबंधी प्रतिबंध के आदेश पर रोक लगाने के सिएटल की एक अदालत के फैसले को बरकरार रखा है। ज्ञात हाे कि ट्रंप ने 27 जनवरी को सात मुस्लिम बहुल देशों के नागरिकों के अमेरिका में प्रवेश पर प्रतिबंध लगा दिया था। इन देशों में इराक, ईरान, सीरिया, लीबिया, सोमालिया, सूडान और यमन शामिल है। जिसके बाद इस फैसले का दुनियाभर में विरोध हो रहा है। अमेरिका के कई शहरों और हवाईअड्डों पर लोग ट्रंप के इस निर्णय के विरोध में प्रदर्शन कर रहे हैं।

ट्रंप प्रशासन की ओर से अपील कोर्ट में एक याचिका दाखिल करके एक निचली अदालत द्वारा इस फैसले पर लगाई गई रोक को जल्द हटाने की मांग की थी। मंगलवार को तीन जजों के एक पैनल ने इस मामले पर सुनवाई की। कोर्ट ऑफ अपील्स ने अपने फैसले में कहा, 'हमारा मानना है कि सरकार ने यह साबित नहीं किया कि इसकी अपील में दम है और न ही यह साबित किया है कि रोक नहीं हटाने से बड़ा नुकसान होगा।

अंतरराष्ट्रीय मीडिया रिपाेर्टस के मुताबिक मामले की सुनवाई के दौरान अपील अदालत ने राष्ट्रपति ट्रम्प के विवादित यात्रा प्रतिबंध का बचाव करने वाले और उसे चुनौती देने वालों से कड़े सवाल पूछे। तीन न्यायाधीशों की एक बेंच ने राष्ट्रपति की शक्तियों को सीमित करने और सात देशों को आतंकवाद से जोड़ने को लेकर कई सवाल खड़े किए। इससे पहले, ट्रंप ने अपने उस विवादास्पद आदेश का बचाव करते हुए कहा था कि विदेशियों के अमेरिका आने पर प्रतिबंध लगाने का उन्हें कानूनी अधिकार है।

हांलाकि पुलिस प्रमुखों की एक बैठक में राष्ट्रपति ट्रम्प ने संघीय अपील अदालत में इस यात्रा प्रतिबंध पर पुनर्विचार की सुनवाई को शर्मनाक करार दिया था और कहा कि ऐसा राजनीतिक कारणों से किया जा रहा है। अब इस मामले में अंतिम फैसला अमेरिका का उच्चतम न्यायालय करेगा।