यूपी चुनाव: EVM के सुरक्षाकर्मी की संदिग्ध परिस्थिति में मौत

मेरठ में ईवीएम की सुरक्षा में लगे लंगूर मालिक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत, परिजनों ने जताई हत्या की आशंका। मामले की जांच में जुटी पुलिस।

यूपी चुनाव: EVM के सुरक्षाकर्मी की संदिग्ध परिस्थिति में मौत

उत्तर प्रदेश के मेरठ जिले ईवीएम की सुरक्षा में लगे लंगूर मालिक की संदिग्ध परिस्थितियों में मौत हो गई। पुलिस ने घटना को हादसे करार दिया। वहीं, मृतक के परिजनों ने हत्या की आशंका जताते हुए पुलिस में तहरीर दी है। फिलहाल पुलिस मामले की जांच कर रही है।

मिली जानकारी के मुताबिक, मृतक का नाम किशनलाल 60 है। वह मेरठ के थाना मेडिकल क्षेत्र का रहने वाला था। किशनलाल को उसके दो लंगूरों के साथ कताई मिल में विधानसभा चुनावों के बाद रखी गई ईवीएम की सुरक्षा के लिए रखा गया था। लेकिन अचानक किशनलाल लापता हो गया।

मिल परिसर में गुरुवार को जब वह नहीं मिला, तो उसकी तलाश की गई। घंटों की तलाश के बाद कताई मिल में ही गटर के अंदर से किशनलाल का शव निर्वस्त्र अवस्था में मिला। पुलिस ने प्रारंभिक जांच के आधार पर इस घटना को हादसा बताया है, लेकिन परिजनों ने हत्या की आशंका जताई है।

पुलिस ने मृतक के परिजनों की तहरीर के आधार पर घटना की जांच शुरू कर दी है। ज्ञात हो कि मेरठ में 11 फरवरी को विधानसभा चुनाव हुए थे। चुनाव बाद सभी ईवीएम को परतापुर स्थित कताई मिल में बनाए गए स्ट्रांग रूम में सीसीटीवी कैमरों की निगरानी में रखा गया है।

सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, स्ट्रांग रूम के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों को बंदर नुकसान पहुंचा रहे थे। इसलिए प्रशासन ने लंगूर मालिक किशनलाल को उसके दो लंगूरों के साथ यहां रखा था। लेकिन, किशनलाल की मौत के बाद से दोनों लंगूर गायब है। डीएम बी चन्द्रकला ने जांच के आदेश दिए हैं।