यूपी: संभल में फिर काटी गई रेल पटरी, टला हादसा

संभल में चंदौसी रेलवे स्टेशन के नजदीक चंदौसी-मुरादाबाद रेलमार्ग पर सोमवार देर रात पटरी काटने की घटना से होने वाली एक बड़ी दुर्घटना गैंगमैन की सतर्कता के कारण टल गई।

यूपी: संभल में फिर काटी गई रेल पटरी, टला हादसा

उत्तर प्रदेश के संभल में चंदौसी रेलवे स्टेशन के नजदीक चंदौसी-मुरादाबाद रेलमार्ग पर सोमवार देर रात पटरी काटने की घटना से होने वाली एक बड़ी दुर्घटना गैंगमैन की सतर्कता के कारण टल गई।

जानकारी के अनुसार, पुलिस सूत्रों का कहना है कि एक रेलवे गैंगमैन ने देर रात करीब सवा 3 बजे मोहम्मदगंज गांव के पास रेल पटरी कटी देखी। इस बारे में उसने वरिष्ठ अधिकारियों को जानकारी भी दी। पटरी करीब 32 मिलीमीटर तक काटी गई थी और उसे काटने में इस्तेमाल किया गया औजार भी पटरी के पास से ही बरामद किया गया है। वरिष्ठ अधिकारी और फोरेंसिक दल मौके पर पहुंचे। मामले की जांच की जा रही है।

चंदौसी रेलवे स्टेशन से करीब 3 किलोमीटर दूर स्थित चंदौसी-अलीगढ़ रेलमार्ग पर गत 9 फरवरी की सुबह कुछ लोगों ने पटरी काटने की कोशिश की थी। मौके से एक हथौड़ा, 1 संबल, 1 प्लास, 2 आरियां व लोहा काटने के अन्य औजार बरामद किए गए थे।

गौरतलब है कि पिछले साल 20 नवम्बर को कानपुर के पुखरायां के पास इंदौर-पटना एक्सप्रेस के कई डिब्बे पटरी से उतर गए थे। इस हादसे में 120 से ज्यादा लोग मारे गए थे। उसके कुछ दिन बाद 28 दिसम्बर को कानपुर से कुछ ही दूरी पर एक और रेलगाड़ी पटरी से उतर गई थी। इन दोनों घटनाओं के लिए रेल पटरी के चटकने का संदेह जाहिर किया गया था। इस मामले में 3 लोगों की संदेह के आधार पर गिरफ्तारी के बाद पता लगा कि इसके पीछे पाकिस्तानी खुफिया एजेंसी आईएसआई का हाथ था।