पश्चिमी यूपी की 73 सीटों पर "11 फरवरी" को होगी वोटिंग

यूपी में पहले दौर का चुनाव प्रचार गुरूवार शाम को समाप्त हो गया। अब शनिवार (11 फरवरी) को सभी पार्टियों के उम्मीदवारों की पहली परीक्षा होगी, जब पश्चिमी यूपी की 73 सीटों पर मतदान होगा।

पश्चिमी यूपी की 73 सीटों पर "11 फरवरी" को होगी वोटिंग

यूपी में पहले दौर का चुनाव प्रचार गुरूवार शाम को समाप्त हो गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक अब शनिवार (11 फरवरी) को सभी पार्टियों के उम्मीदवारों की पहली परीक्षा होगी, जब पश्चिमी यूपी की 73 सीटों पर मतदान होगा।

पहले चरण में इन जिलों में होना है मतदान
पहले चरण में पश्चिमी उत्तर प्रदेश के शामली, मुजफ्फरनगर, बागपत, मेरठ, गाजियाबाद, गौतमबुद्धनगर, हापुड़, बुलंदशहर, अलीगढ़, मथुरा, हाथरस, आगरा, फिरोजाबाद, एटा और कासगंज जिलों में मतदान होना है।

73 सीटों के लिए 2.57 करोड़ मतदाता
इस चरण में 73 सीटों के लिए कुल 2.57 करोड़ लोगों को मताधिकार प्राप्त है जिनमें 1.17 करोड़ महिलाएं हैं। युवा वर्ग में 18 से 19 साल के बीच के मतदाताओं की संख्या भी 24 लाख से ऊपर है।

जाट वोट पर BJP की नजर
केंद्र सरकार में कृषि राज्य मंत्री संजीव बालियान ने कहा था कि एक मिनट में खेल बदल जाएगा और पश्चिमी यूपी में जाट बीजेपी को वोट करेंगे। इनका दावा अपनी जगह है लेकिन हकीकत ये है कि जाट बहुल इलाकों में बीजेपी का हिसाब सही नहीं बैठा है।

आरक्षण के मुद्दे ने बिगाड़ा खेल
वहीं आंकड़े बताते हैं कि पश्चिमी यूपी में जाट मतदाता कितनी अहमियत रखते हैं, लेकिन जाट आरक्षण को लेकर हरियाणा में जो चल रहा है उसने बीजेपी के लिए परेशानी खड़ी कर दी है। अब सवाल यह है कि अगर जाट बीजेपी से नाराज हैं फिर पश्चिमी यूपी में जाट किसे वोट देंगे।