अखिलेश ने अपने पिता के इरादों को भी पूरा नहीं किया: PM मोदी

मिर्जापुर में प्रधानमंत्री मोदी ने चुनावी रैली को किया संबोधित, कहा- अखिलेश ने अपने पिता के इरादों को भी पूरा नहीं किया।

अखिलेश ने अपने पिता के इरादों को भी पूरा नहीं किया: PM मोदी

यूपी मे हो रहे विधानसभा चुनाव के सातवें और अंतिम चरण के प्रचार में सभी दलों ने अपनी पूरी ताकत झोंक दी है। अंतिम चरण में 8 मार्च को 7 जिलों की 40 सीटों पर मतदान होना है। पीएम मोदी ने शुक्रवार को मिर्जापुर में रैली को संबोधित किया।

मिर्जापुर में पीएम के बोल

अब यह सवाल नहीं है कि किसकी सरकार बनेगी, यह चुनाव सपा-बीएसपी-कांग्रेस की छुट्टी का उत्सव है। जब यहां सपा-बीएसपी की सरकार थी तो यहां 13 साल पहले मुलायम सिंह ने बरेली और मिर्जापुर के बीच पुल के निर्माण की आधारशिला रखी थी, लेकिन अभी तक पूरा नहीं हुआ, लेकिन सीएम कह रहे हैं कि काम बोलता है। बेटा बाप के किए हुए कामों को कभी अधूरा नहीं छोड़ता, लेकिन अखिलेश ने अपने पिता के इरादों को भी पूरा नहीं किया, ये कैसा काम बोलता है।

पीएम ने रैली में कहा कि जो खुद अपना काम नहीं बता पा रहे हैं सिर्फ काम का ढोल पीटने को फैशन बताते हैं, आजकल वह मुझे काम पुछते हैं। अखिलेश ने मुझे कहा कि जरा बिजली के तार को पकड़ कर तो देखो, आपके अपने नये यार 27 साल यूपी बेहाल से बहुत गले लगते हैं।यह मालूम नहीं है कि खाट किसकी खड़ी होगी, आपके यार तो खाट सभा करने निकले थे और लोग खटिया उठा कर ले गये, क्योंकि लोगों को पता था कि उनकी ही खाट है।

साथ ही पीएम ने कहा कि एक खाट सभा ने उनका हाथ बिजली के तार पर लगा, तो गुलाम नबी आजाद ने कहा कि बचिये, तो राहुल जी ने कहा कि गुलाम नबी आजाद जी चिंता नहीं कीजिये, यहां तार है पर बिजली नहीं होती। अब मुझे इसे छूने की जरुरत नही। लेकिन 11 मार्च को सपा-बएसपी-कांग्रेस को करंट लगेगा। मिर्जापुर से इतनी नफरत क्यों, बहनजी का मिर्जापुर के पत्थरों से क्या झगड़ा था। यहां से अपनी मूर्तियां बनवाने के लिए ले गये थे, लेकिन जब जांच शुरू हुई तो उन्होंने राजस्थान का पत्थर बताया।

वहीं पीएम ने कहा कि बीजेपी ने अपने घोषणापत्र में किसानों का कर्ज माफ करने की बात कही, मैं उत्तर प्रदेश का सांसद होने के नाते विश्वास दिलाता हूं कि 11 मार्च को बीजेपी की सरकार बनने के बाद सबसे पहले किसानों का कर्जमाफ कर दिया जायेगा। बीजेपी शासित राज्य में 60 फीसदी से ऊपर किसानों को बीमा का फायदा मिला, लेकिन यूपी में 14 फीसदी किसानों को ही मिला। सपा-बएसपी-कांग्रेस हमेशा एक दूसरे के खिलाफ रहते थे, लेकिन नोटबंदी के मुद्दे पर ये सब इकट्ठे हुए। 8 तारीख को जब मैंने 'मेरे प्यारे देशवासियों' कहा इन्हें तब से दिक्कत है।

7वें चरण में यहां हैं चुनाव
सातवें चरण में जिन सात जिलों में वोटिंग होनी है उनमें गाजीपुर, वाराणसी, चंदौली, मिर्जापुर, भदोही, सोनभद्र, जौनपुर जैसे जिले शामिल हैं. यूपी विधानसभा चुनाव को लेकर पीएम मोदी अब तक 19 जगहों में रैलियां कर चुके है. सातवें चरण में होने वाली वोटिंग के लिए बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह भी गाजीपुर में चुनावी रैली को संबोधित करेंगे।