अखिलेश ने पार्टी के पांच और 'बागियों' को किया निष्कासित

बुधवार को भी सीएम अखिलेश यादव ने पार्टी विरोधी कार्य करने पर कई 'बागियों' को छह साल के लिए निष्कासित कर दिया. इनमें मिर्जापुर और रायबरेली के नेता शामिल हैं.

अखिलेश ने पार्टी के पांच और

पूर्वांचल में समाजवादी पार्टी की दिक्कतें कम होने का नाम नहीं ले रही हैं. पार्टी ​में टिकट बंटवारे को लेकर मचा घमासान अब निष्कासनों का दौर ला चुका है।

पार्टी राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने बुधवार को बगावत तेवर दिखाने वाले पांच लोगों को छह साल के लिए बाहर का रास्ता दिखाया दिया।
इनमें सपा अध्यक्ष ने जय सिंह पूर्व प्रमुख लालगंज एवं पूर्व जिला सचिव समाजवादी मिर्जापुर, सोकिम अहमद उर्फ झल्लू खां पूर्व विधानसभा अध्यक्ष छानवे, मिर्जापुर शामिल है।

इसके अलावा रायबरेली जनपद के राम जियावन यादव, राम अभिलाख यादव तथा राम नरेश यादव को भी पार्टी विरोधी कार्य करने पर 6 वर्ष के लिए पार्टी से निष्कासित कर दिया गया है। इससे पहले अखिलेश ने मंगलवार को भी कई नेताओं, पदाधिकारियों को पार्टी प्रत्याशी के विरोध में चुनाव लड़ने, पार्टी के निर्देशों की अवहेलना और अनुशासनहीन आचरण की वजह से निष्कासित किया था।

ज्ञात हो इससे पहले अखिलेश यादव ने मंगलवार को भदोही के ज्ञानपुर विधानसभा क्षेत्र के विधायक विजय मिश्रा सहित तमाम नेताओं, पदाधिकारियों को पार्टी प्रत्याशी के विरोध में चुनाव लड़ने, पार्टी के निर्देशों की अवहेलना और अनुशासनहीन आचरण की वजह से समाजवादी पार्टी से निष्कासित कर दिया. 24 फरवरी को विधायक विजय मिश्रा के समर्थकों को पार्टी से निष्कासित किया गया था।