जामिया में ट्रिपल तलाक पर मुझे नहीं बोलने दिया: शाजिया इल्मी

बीजेपी नेता शाजिया इल्मी ने आरोप लगाया है कि जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी में एक कार्यक्रम में उन्हें ट्रिपल तलाक पर नहीं बोलने दिया गया।

जामिया में ट्रिपल तलाक पर मुझे नहीं बोलने दिया: शाजिया इल्मी

बीजेपी नेता शाजिया इल्मी ने आरोप लगाया है कि जामिया मिलिया यूनिवर्सिटी में एक कार्यक्रम में उन्हें ट्रिपल तलाक पर नहीं बोलने दिया गया। मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक शाजिया को 16 फरवरी को जामिया विश्वविद्यालय में तीन तलाक पर एक लेक्चर देने जाना था लेकिन विश्वविद्यालय के वाइस चांसलर की ओर से कहा गया कि शाजिया के वहां आने से माहौल खराब हो जाएगा।

उन्होंने कहा कि उमर खालिद, शेहला को देश के टुकड़े करने की आजादी है लेकिन शाजिया इल्मी ने कांग्रेस का भ्रष्टाचार उजागर किया और बीजेपी का साथ दिया इसलिए उन्हें बोलने की आजादी नहीं दी गई।

बता दें कि शाजिया पूर्व में जामिया विश्वविद्यालय की छात्रा रह चुकी हैं। उन्होंने कहा कि कार्यक्रम के आयोजक मुझे बुलाना चाहते थे लेकिन दबाव की वजह से मुझे नहीं बुलाया गया।

वहीं शाजिया का आरोप है कि वो बीजेपी नेता हैं और इसी कारण उन्हें जामिया में बोलने से रोका गया। उन्होंने कहा कि जो लोग अभिव्यक्ति की आजादी के बात करते हैं, अब वो मेरी अभिव्यक्ति की आजादी छीने जाने पर मौन क्यों हैं।

गौरतलब है कि दिल्ली यूनिवर्सिटी के रामजस कॉलेज में एक सेमिनार को लेकर दो छात्र संगठनों में विवाद हुआ था, जिसके बाद दिल्ली विश्वविद्यालय की छात्रा गुरमेहर ने आरोप लगाया था कि एबीवीपी के खिलाफ कैंपेन चलाने पर उसे सोशल मीडिया पर रेप की धमकी मिल रही है।