गैंगरेप के आरोपी मंत्री का पासपोर्ट सस्पेंड, लुक आउट सर्कुलर जारी

गायत्री प्रजापति का पासपोर्ट सस्पेंड करने के लिए पासपोर्ट ऑफिस खुलवाया गया। प्रजापति के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी कर दिया गया है।

गैंगरेप के आरोपी मंत्री का पासपोर्ट सस्पेंड, लुक आउट सर्कुलर जारी

गैंगरेप आरोपी गायत्री प्रजापति को विदेश भागने से रोकने के लिए उनका पासपोर्ट सस्पेंड कर दिया गया है। गायत्री प्रजापति का पासपोर्ट सस्पेंड करने के लिए शनिवार को भी पासपोर्ट ऑफिस खुलवाया गया। प्रजापति के खिलाफ लुक आउट सर्कुलर जारी कर दिया गया है।

एक तरह से गायत्री प्रजापति के विदेश भागने के सारे रास्ते बंद हो गए हैं। इस बीच POCSO कोर्ट के स्पेशल जज लक्ष्मी कांत राठौर ने शनिवार को गायत्री प्रजापति के खिलाफ गैरजमानती वॉरंट जारी कर दिया है। पुलिस गायत्री के खिलाफ गैरजमानती वॉरंट के लिए कोर्ट पहुंची थी। पुलिस ने कानपुर में छापेमारी भी की।

इससे पहले खुफिया एजेंसियों को यह जानकारी मिली थी कि प्रजापति नेपाल या दुबई भागने की फिराक में हैं। उल्लेखनीय है कि सुप्रीम कोर्ट के निर्देश पर प्रजापति और छह अन्य लोगों के खिलाफ 18 फरवरी को गैंगरेप का मुकदमा दर्ज किया गया था।

गायत्री प्रजापति अमेठी से एसपी के उम्मीदवार हैं। यूपी विधानसभा चुनावों के पांचवें चरण में अमेठी में वोट डालकर गायत्री प्रजापति गायब हो गए हैं। गायत्री प्रजापति के फरार होने की आशंकाओं के मद्देनजर एयरपोर्ट और एग्जिट पॉइंट पर अलर्ट जारी कर दिया गया है। इमिग्रेशन और अन्य बलों को भी अलर्ट कर दिया गया है।

प्रदेश के मुख्यमंत्री यादव ने शुक्रवार को मामले पर चुप्पी तोड़ते हुए कहा था कि सरकार जांच में पूरा सहयोग कर रही है। वहीं, बीजेपी ने अखिलेश यादव पर आरोप लगाया है कि गायत्री को सीएम आवास में छिपाकर रखा गया है। हालांकि, अखिलेश ने बीजेपी को चुनौती दी है कि कैमरा लेकर चलें और आवास में गायत्री को खोजकर दिखाएं।

बीजेपी ने गायत्री प्रजापति के मामले को चुनावी मुद्दा बना लिया है। शनिवार को जौनपुर की चुनावी रैली में भी प्रधानमंत्री मोदी ने इस मुद्दे को उठाया। मोदी ने तंज कसते हुए कहा कि कांग्रेस-एसपी गठबंधन 'गायत्री प्रजापति मंत्र' का जाप कर रहा है।