डीयू के 2 लाॅ स्टूडेंट्स ने पुलिसवालों के खिलाफ HC में दाखिल की याचिका

डीयू रामजस कॉलेज विवाद में दो लॉ स्टूडेंट्स ने छात्रों और पत्रकारों के साथ कथित बदसलूकी करने वाले पुलिसवालों के खिलाफ हाई काेर्ट में जनहित याचिका दाखिल की है।

डीयू के 2 लाॅ स्टूडेंट्स ने पुलिसवालों के खिलाफ HC में दाखिल की याचिका

डीयू रामजस कॉलेज विवाद में दो लॉ स्टूडेंट्स ने छात्रों और पत्रकारों के साथ कथित बदसलूकी करने वाले पुलिसवालों के खिलाफ हाई काेर्ट में जनहित याचिका दाखिल की है। रामजस कॉलेज विवाद को लेकर दिल्ली विवि के छात्रों और कई लोगों ने एबीवीपी के खिलाफ सड़क पर उतरे और विरोध प्रदर्शन किया। मीडिया के मुताबिक पुलिस पर आरोप है कि प्रदर्शन के दौरान कुछ पुलिस कर्मियों ने छात्रों और पत्रकारों के साथ बदसलूकी की। इसी मामले को लेकर बुधवार को दिल्ली विश्वविद्यालय के लॉ के दो छात्रों ने दिल्ली हाईकोर्ट में एक जनहित याचिका दाखिल की है।

ज्ञात हो कि कारगिल में शहीद हुए कैप्टेन मनदीप सिंह की बेटी गुरमेहर कौर और डीयू रामजस कॉलेज की छात्रा ने पिछले साल युद्ध के खिलाफ अपना एक 36 स्लाइड का वीडियो संदेश सोशल मी‌डिया के माध्यम से जारी किया। वीडियो में उन्होंने पोस्टरों के जरिए अपनी बात कही।

उन्हीं पोस्टरों में से एक में लिखा था कि मेरे पिता को पाकिस्तान ने नहीं बल्कि जंग ने मारा। उनके इस पोस्टर को सोशल मीडिया पर वायरल किया गया। जिस पर पूर्व क्रिकेटर वीरेंद्र सहवाग ने ट्वीट किया और उनके ट्वीट के बाद मामले ने तूल पकड़ लिया। गुरमेहर कौर को रेप करने तक की धमकी दी गई। जिसके बाद मामला और बढ़ गया। गुरमेहर कौर के पोस्टर को को लेकर सोशल मीडिया के जरिए उठा विवाद अब सड़क पर आ गया है।