कैग ने की दिल्ली सरकार की खिंचाई, केजरीवाल नाराज

विज्ञापनों को लेकर कैग ने की दिल्ली सरकार की खिंचाई, केजरीवाल ने जताई नाराजगी

कैग ने की दिल्ली सरकार की खिंचाई, केजरीवाल नाराज

कैग ने अपने पहली साल की 'उपलब्धियां' बताते हुए राष्ट्रीय राजधानी के बाहर विज्ञापन जारी करने और 'गैर सत्यापित' सामग्री लगाने को लेकर आप सरकार को कटघरे में खड़ा कर दिया, जिसे लेकर मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने तीखी प्रतिक्रिया दी है. मुख्यमंत्री ने नियंत्रक एवं महालेखा परीक्षक शशिकांत शर्मा पर 'राजनीति' करने का आरोप लगाया और कहा कि वह संभवत: अपनी नौकरी बचाने के लिए 'मजबूरी में' ऐसा कर रहे हैं.

कैग ने अपनी रिपोर्ट में पाया है कि अपने पहले साल में आम आदमी पार्टी सरकार ने दिल्ली के बाहर विज्ञापन जारी करने में 29 करोड़ रुपये खर्च किए, जो उसकी जिम्मेदारी के बाहर था. दिल्ली विधानसभा में शुक्रवार रखी गई कैग की रिपोर्ट में कहा गया है कि 24 करोड़ रपये का दिल्ली सरकार द्वारा विज्ञापन जारी किया जाना वित्तीय औचित्य और उच्चतम न्यायालय के नियमनों का उल्लंघन है.

केजरीवाल ने विधानसभा के बाहर संवाददाताओं से कहा, 'हम जानते हैं कि कैग ऐसा क्यों कर रहा है. मुझे लगता है कि कैग मजबूरी में यह कर रहा है. कैग को यह पता होना चाहिए कि यदि वह हमारी गलतियों को खोजता है तो हम इसे स्वीकार करेंगे लेकिन राजनीति का काम नेताओं पर ही छोड़ देना चाहिए.'